P Block Elements in Hindi: जाने क्या है P Block Elements, Chemistry Class 12

पी-ब्लॉक एलिमेंट्स, सीबीएसई कक्षा 12 वीं रसायन विज्ञान का एक महत्वपूर्ण अध्याय है। यह NCERT कक्षा 12 वीं रसायन विज्ञान पाठ्यपुस्तक का अध्याय संख्या 7 वां है। सीबीएसई कक्षा 12 वीं बोर्ड परीक्षाओं में इस अध्याय पर आधारित प्रश्न अक्सर पूछे जाते हैं। इस आर्टिकल मे हम P Block Elements टॉपिक पर विस्तृत नोट्स शेअर कर रहे है

महत्वपूर्ण बिंदु

What are the p-Block Elements? (p-ब्लॉक के तत्व क्या है)

“वे तत्व जिनके परमाणु क्रमांक में वृद्धि के साथ-साथ उनके बाह्य कोश के p-उपकोशों  में इलेक्ट्रॉन प्रवेश करता है, p-ब्लॉक तत्व कहलाते हैं। आवर्त सारणी में 13 से 17 तथा शून्य वर्ग (वर्ग 18) के तत्व p-ब्लॉक तत्व कहलाते हैं।”

p-ब्लॉक के तत्वों और s-ब्लॉक के तत्वों को सयुक्त रूप से निरूपक तत्व (representative elements) या मुख्य वर्ग के तत्व (main group elements) कहा जाता है। इन तत्वों के बाह्य कोश का इलेक्ट्रॉनिक विन्यास ns2np1 -6 होता है, जहाँ n अन्तिम कोश है। इस ब्लॉक के तत्वों के अन्तिम कोश के s -उपकोश में पहले से दो इलेक्ट्रॉन रहते हैं और p-उपकोश में एक से छह तक इलेक्ट्रॉन रहते हैं, जबकि बाह्य कोश से पहली कोश में 8 या 18 इलेक्ट्रॉन होते हैं (He को छोड़कर)।

प्रत्येक आवर्त में इनका बाह्यतम इलेक्ट्रॉनिक विन्यास ns2, np1 से ns2, np6 तक परिवर्तित होता है। प्रत्येक आवर्त ns2, np6, उत्कृष्ट गैस के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास के साथ समाप्त होता है। उत्कृष्ट गैसों में संयोजी कोश में सभी कक्षक इलेक्ट्रॉनों से पूरे भरे होते हैं। इलेक्ट्रॉनों को हटाकर या जोड़कर इस स्थायी व्यवस्था को बदलना बहुत कठिन होता है। इसीलिए उत्कृष्ट गैसों की रासायनिक अभिक्रियाशीलता बहुत कम होती है।

उत्कृष्ट गैसों के परिवार से पहले अधातुओं के रासायनिक रूप से दो महत्त्वपूर्ण वर्ग हैं-17 वें वर्ग के हैलोजेन (halogen) तथा 16वें वर्ग के तत्व चाल्कोजन (chalcogen) इन दो वर्गों के तत्वों की ऋणात्मक इलेक्ट्रॉन लब्धि एन्थैल्पी उच्च होती है। ये तत्व सरलता से क्रमशः एक या दो इलेक्ट्रॉन ग्रहण कर स्थायी उत्कृष्ट गैस इलेक्ट्रॉनिक विन्यास प्राप्त कर लेते हैं।

Characteristics of p-Block Elements  (p – Block के तत्वों के लक्षण )

आवर्त सारणी के इन तत्वों के लक्षण निम्नलिखित है।

इलेक्ट्रॉनिक विन्यास ( Electronic configuration )

इन तत्वों में बाह्य कोश के s – उपकोश में 2 और p – उपकोष में 1 से 6 तक इलेक्ट्रान होते है जैसे –

B = 2,3 1s2, 2s2, 2p1
C = 2,4 1s2, 2s2, 2p2
N =2,5 1s2, 2s2, 2p3
O = 2,6 1s2, 2s2, 2p4
F = 2,7 1s2, 2s2, 2p5
Ne = 2,8 1s2, 2s2, 2p6

Electron gain enthalpy (इलेक्ट्रॉन लब्धि एन्थैल्पी) 

इन तत्वों की इलेक्ट्रॉन लब्धि एन्थैल्पी उच्च होती हैं (शून्य वर्ग के तत्वों की इलेक्ट्रॉन लब्धि एन्थैल्पी शून्य होती है)।

Electronegativity ऋण-विद्युतता 

इन तत्वों की ऋण-विद्युतता अपेक्षाकृत उच्च कोटि की होती है (शून्य वर्ग के तत्वों को छोड़कर)।

Reactivity क्रियाशीलता 

हैलोजेनों, ऑक्सीजन, सल्फर तथा फॉस्फोरस को छोड़कर ‘ अन्य p-ब्लॉक तत्वों की क्रियाशीलता कम होती है।

Atomic radius (परमाणु त्रिज्या) 

इन तत्वों की परमाणु त्रिज्या अपेक्षाकृत कम होती है। शन्य वर्ग के तत्वों की परमाणु त्रिज्या प्रायः अधिक होती है)।

Valency (संयोजकता)

ऑक्सीजन, फ्लुओरीन तथा अक्रिय गैसों को छोडकर, सभी p-ब्लॉक तत्वों की ऑक्सीज़न के प्रति सयोजकता उनके बाह्य कोश के इलेक्ट्रोनो की संख्या के बराबर होती है। कुछ p-ब्लॉक तत्वों की सयोजकता उनके भिन्न – भिन्न यौगिकों में भिन्न – भिन्न हो सकती है अर्थात् इनमें कुछ तत्व परिवर्ती (variable) सयोजकता भी व्यक्त करते है। जैसे—PCl3, PCl5, N2O, N2O3, N2O5 आदि।

Ionization enthalpy (आयनन एन्थैल्पी)

इन तत्वों की आयनन एन्थैल्पी उच्च कोटि की होती हैं। इसी कारण अधिकांश p-ब्लॉक तत्व धनायन नहीं बनाते हैं। (शून्य वर्ग के तत्वों की आयनन एन्थैल्पी सर्वाधिक होती है)।

Non-metallic character अधात्विक गुण

p-ब्लॉक तत्व, धातु (Al, Sn, Pb आदि), अधातु (N, P, 0 तथा हैलोजेन आदि) तथा उपधातु (Ge, As, Sb आदि) तीनों प्रकार के होते हैं। इस कारण इनको सामान्य तत्व कहते हैं। आवर्त में बाई से दाईं ओर बढ़ने पर तत्वों के अधात्विक लक्षणों में वृद्धि होती है। तथा किसी वर्ग में ऊपर से नीचे जाने पर धात्विक लक्षणों में वृद्धि होती है।

Nature of compounds (यौगिकों की प्रकृति) 

ये तत्व मुख्यतः सहसंयोजक यौगिक बनाते है अधातुओं के ऑक्साइड प्रायः अम्लीय होते हैं। Al, Sn, As तथा Sb के ऑक्साइड उभयधर्मी होते हैं।

P Block Elements related important Questions and Answers

Questions-  P ब्लॉक तत्व क्या है?
Ans- पी-ब्लॉक आवधिक तालिका का क्षेत्र है जिसमें कॉलम 3 ए से कॉलम 8 ए तक शामिल हैं और इसमें हीलियम शामिल नहीं है। 35 पी-ब्लॉक तत्व हैं, जिनमें से सभी वैलेंस इलेक्ट्रॉनों के साथ पी ऑर्बिटल में हैं। पी-ब्लॉक तत्व गुणों की एक विस्तृत श्रृंखला के साथ बहुत विविध तत्वों का एक समूह है।

Questions- उन्हें पी ब्लॉक तत्व क्यों कहा जाता है?
Ans- तत्व s- ब्लॉक और p- ब्लॉक तथाकथित हैं, क्योंकि उनकी वैलेंस इलेक्ट्रॉन या तो कक्षीय s या p में हैं। इन्हें अक्सर परिवर्तन और आंतरिक परिवर्तन के क्रम से अलग करने के लिए, मानक घटक कहा जाता है।

Questions- 17 गैर-धातु क्या हैं?
Ans- गैर-धातुएं ऊपरी बाएं कोने में पाए जाने वाले हाइड्रोजन को छोड़कर आवर्त सारणी के चरम दाईं ओर हैं। 17 गैर-धातु तत्व हैं: हाइड्रोजन, हीलियम, कार्बन, नाइट्रोजन, ऑक्सीजन, फ्लोरीन, नियोन, फास्फोरस, सल्फर, क्लोरीन, आर्गन, सेलेनियम, ब्रोमीन, क्रिप्टन, आयोडीन, क्सीनन और रेडॉन।

Questions- अधातुओं के गुण क्या हैं?
Ans- आमतौर पर गैर-धातु भंगुर होता है जब यह ठोस होता है और आमतौर पर कम तापीय चालकता और विद्युत चालकता होती है। रासायनिक रूप से, गैर-धातुओं में आयनीकरण से अपेक्षाकृत उच्च ऊर्जा, इलेक्ट्रॉनों के साथ संपर्क और इलेक्ट्रोनगेटिविटी होती है। जैसा कि वे अन्य तत्वों और रासायनिक यौगिकों के साथ प्रतिक्रिया करते हैं, वे इलेक्ट्रॉनों को प्राप्त या विनिमय करते हैं।

Questions- पी ब्लॉक तत्वों का सामान्य इलेक्ट्रॉनिक कॉन्फ़िगरेशन क्या है?
Ans- पी ब्लॉक घटकों के लिए सामान्य इलेक्ट्रॉनिक बाहरी विन्यास ns2np (1 )6) है। (n s 1) d (1−10) ns (0 )2) d ब्लॉक घटकों का सामान्य इलेक्ट्रॉनिक बाहरी विन्यास है। सामान्य इलेक्ट्रॉनिक बाहरी F ब्लॉक तत्व विन्यास (n f 2) f (0 )14) (n − 1) d (0s1) ns2 है।

ये भी पढ़ें- Life Processes Class 10 Important Questions NCERT Notes

[To Get latest Study Notes  &  NEWS UPDATE Join Us on Telegram- Link Given Below]

For Latest Update Please join Our Social media Handle

Follow Facebook – Click Here
Join us on Telegram – Click Here
Follow us on Twitter – Click Here

Leave a Comment

error: Content is protected !!