मध्य प्रदेश की प्रमुख बोलियाँ और क्षेत्र | MP GK in Hindi| याद करने की Trick

मध्यप्रदेश की प्रमुख बोलियां और क्षेत्र (language of madhya pradesh)

महत्वपूर्ण बिंदु

इस पोस्ट में हम आपके साथ मध्य प्रदेश मैं बोले जाने वाली विभिन्न बोलियां (Madhya Pradesh ki Pramukh boliyan) एवं वह बोली किस क्षेत्र में बोली जाती है।  इससे संबंधित संपूर्ण जानकारी आपको इस पोस्ट में प्राप्त होगी । जैसा की आप सभी को पता होगा । कि मध्य प्रदेश में आयोजित होने वाली सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में मध्य प्रदेश सामान्य ज्ञान से संबंधित प्रश्न विशेष रूप से पूछे जाते हैं.  विगत प्रतियोगी परीक्षाओं में मध्य प्रदेश में बोली जाने वाली बोलियां एवं उनके क्षेत्रों से संबंधित प्रश्न भी पूछे जाते रहे हैं, तो इसी को ध्यान में रखते हुए हमने यह पोस्ट तैयार की है।  जो कि  मध्यप्रदेश में आयोजित होने वाली आगामी सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए विशेष रूप से उपयोगी साबित होगी। 

मध्य प्रदेश राज्य में हिन्दी राजकीय और सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। पूर्वी हिन्दी, अवधी व बघेली बोलियों का प्रतिनिधित्व करती है और बघेलखंड, सतपुड़ा व नर्मदा घाटी में बोली जाती है। बुंदेली पश्चिमी हिन्दी की बोली है और मध्य प्रदेश के मध्यवर्ती व पश्चिमोत्तर ज़िलों में बोली जाती है। भील, भीली और गोंड, गोंडी बोलते हैं। 

Madhya Pradesh ki Pramukh boliyan

बोलियां

क्षेत्र

बुंदेलखंडी( बुंदेली) दतिया, गुना, शिवपुरी, भिंड, मुरैना, ग्वालियर, सागर, टीकमगढ़,  छतरपुर, दमोह, पन्ना, विदिशा, रायसेन, नरसिंहपुर, होशंगाबाद, जबलपुर, सिवनी, छिंदवाड़ा, बालाघाट
बघेलखंडी (बघेली) रीवा, सतना,  सीधी, शहडोल, उमरिया
मालवी सीहोर, नीमच, रतलाम, मंदसौर, शाजापुर, झाबुआ, उज्जैन,  देवास, इंदौर
निमाड़ी खंडवा, खरगोन, धार, देवास, बड़वानी, झाबुआ, इंदौर
ब्रजभाषा भिंड, मुरैना, ग्वालियर
भीली रतलाम, धार, झाबुआ,खरगोन, अलीराजपुर
कोरकू बैतूल, होशंगाबाद,  छिंदवाड़ा, खरगोन

मध्यप्रदेश की प्रमुख बोलियां को याद करने की Trick

“मां को तीव्र बनी बुंदेली  गोभी पसंद है”

  • मां –  मालवीय
  • को –  कोरकू
  • ती –  तिरहरी
  • ब्र –  ब्रज भाषा
  • ब –  बघेलखंडी
  • नी –  निमाड़ी
  • बुंदेली – बुंदेलखंडी
  • गो –  गोड़ी
  • भी –  भीली




पिछली कुछ परीक्षाओ मे मध्य प्रदेश की प्रमुख बोलियाँ और क्षेत्र (MP ki boliya in hindi) से संबन्धित  पूछे गए प्रश्न – 

Q.1 मालवी बोली को किसने दक्षिणी राजस्थानी भी कहा है ?

Ans-  डॉक्टर धीरेंद्र वर्मा

Q.2 सीहोर जिले में कौन सी बोली,बोली जाती है ?

. Ans-  मालवी

Q.3 किस जिले में बुंदेलखंडी बोली नहीं बोली जाती है ?

. Ans-  उज्जैन

 Q.4 मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में कौन सी बोली बोली जाती है ?

Q.5 कौन सी भाषा राष्ट्रभाषा का प्रतिनिधित्व करती है ?

 Q.6 मालवी भाषा निम्न में से किस जिले में नहीं बोली जाती है ?

Ans-  . उमरिया

 Q.7 मध्य प्रदेश की अन्य बोलियों की तुलना में किस बोली का क्षेत्र सबसे अधिक व्यापक है ?

.Ans-  बुंदेली

Q.8 डिंडोरी जिले में कौन सी बोली बोली जाती है ?

Ans-  गोंडी

Q.9 कौन सी बोली साहित्य रचना की दृष्टि से अत्यंत समृद्ध है ?

Ans-  . बुंदेली

Q.10 मारवाड़ी से संबंधित बोली कौन सी है ?

Ans-  मालवी

Q.11 कौन सी भाषा मध्यप्रदेश में नहीं बोली जाती है ?

Ans-  मारवाड़ी

Q.12 हिंदी के राजस्थानी वर्ग की प्रमुख बोली कौन सी है

Ans-  . मालवी

Q.13 मध्य प्रदेश के शहडोल जिले की बोली कौन सी है?

Ans-  बघेली

Q14. बघेल राज्य की स्थापना किसने की थी जिससे यहां पर बोली जाने वाली बोली का नाम बघेली हो गया ?

Ans-  व्याघृदेव

Q.15 मालवी निम्न में से किसी क्षेत्र की बोली है?

Ans-  इन्दौर

Q.16 सौरसेनी अपभृंस से विकसित बोली है ?

Ans-  मालवी

Q.17 कोरकू किस जिले की बोली है ?

Ans-  बैतूल

Q.18 बृज भाषा कहा बोली जाती है .

Ans-  भिंड

 Q.19 झाबुआ की बोली है ?

Ans – निमाडी-मालवी दोनो

दोस्त इस पोस्ट में हमने जाना मध्यप्रदेश की प्रमुख बोली एवं उससे संबंधित क्षेत्र (Madhya Pradesh ki Pramukh boliyan) अर्थात, यह बोलियां किस क्षेत्र में बोली जाती है । आपको यह पोस्ट कैसी लगी हमें कमेंट करके अवश्य बताइए । अगर आप किसी अन्य विषय पर पोस्ट प्राप्त करना चाहते हैं, तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं । सभी प्रकार के स्टडी मैटेरियल प्राप्त करने के लिए आप हमारी फेसबुक पेज को भी लाइक कर सकते हैं।  आगामी सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए आप सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएं!!!

Read Also 

[To Get latest Study Notes & UPDATE Join Us on Telegram- Link Given Below]

For Latest Update Please join Our Social media Handle

Follow Facebook – Click Here
Join us on Telegram – Click Here
Follow us on Twitter – Click Here



Leave a Comment

error: Content is protected !!