CTET August 2023: वाइगोत्सकी के सिद्धांत से जुड़े इन सवालों को हल कर, चेक! करें सीटेट परीक्षा की अंतिम तैयारी

Spread the love

Question on lev Vygotsky Theory for CTET: शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी सीटीईटी के आयोजन का समय अब बेहद नजदीक आ चुका है परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले सभी अभ्यर्थी अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देने में व्यस्त हैं. बता दे कि 20 अगस्त 2023 को ऑफलाइन मोड पर यह परीक्षा सीबीएसई के द्वारा देश के अलग-अलग राज्यों में  एक साथ आयोजित की जाएगी. ऐसे में बेहतर अंकों के साथ सफलता हासिल करने के लिए आवश्यक है CDP से बार-बार पूछे जाने वाले प्रश्नों पर अपना फोकस बनाए रखना. वाइगोत्सकी के सिद्धांत से पूछे जाने वाले ऐसे ही कुछ सवाल इस आर्टिकल में हम आपके साथ सांझा करने जा रहे हैं, जिनका अभ्यास आपको परीक्षा में 1 से 2 अंक दिलाने में सहायक होगा, इसलिए ने एक बार जरूर पढ़ लेवे.

CTET परीक्षा में कुछ ही दिन का समय शेष, वाइगोत्सकी के इन सवालों से करें परीक्षा की तैयारी—question on lev vygotsky theory for CTET exam 2023

Q. ‘भाषा एवं विचार’ पर लेख वायगोत्स्की क्या सुझाते हैं?

(a) भाषा, संज्ञानात्मक विकास को निर्देशित करती है।

(b) संज्ञानात्मक विकास, भाषा को निर्देशित करती है।

(c) भाषा और संज्ञान में कोई संबंध नहीं है ।

(d) संज्ञान, भाषा से स्वतंत्र है।

Ans- (a)

Q. लेव वायगोत्स्की के सिद्धान्त के अनुसार निम्न में से कौन स अध्यापन-अधिगम प्रक्रिया को पाड प्रदान करने की प्रभावशाल तकनीक है?

(a) समस्या के समाधार हेतु स्थिर पद -दर-पद निर्देश देना 

(b) गलत जवाबों पर बच्चों को दंडित करना

(c) समस्या को सुलझाने के दौरान अगर बच्चे किसी बिन्दु प अटक जाएं तो उस समय संकेत और इशारे देना ।

(d) प्रक्रिया में अध्यापक का पूर्ण अहस्तक्षेप

Ans- (c)

Q. लेव वायगोत्स्की ने अपने सामाजिक संरचनावाद सिद्धांत में, निम्न से किसे विद्यार्थियों में अधिगम को सुसाध्य करने हेतु उपयुक्त बता है?

(a) सहकर्मी सहयोगिता

(b) सांस्कृतिक उपकरणों का अहस्तक्षेप 

(c) रट कर याद करने पर बल

 (d) गैर-संदर्भित पाठ्यक्रम

Ans- (a)

Q. अमन एक पहेले की टुकड़ों को ठीक से लगाने की कोशिश कर रहा है। लेकिन वह सही जगह पर सही हिस्सों को फिट करने के लिए संघर्ष करता है। कैसे, क्या, क्यों के रूप में उसकी माँ उसे संकेत प्रदान करती है। ले वायगोत्स्की के सीखने के सिद्धांत के अनुसार सीखने की यह प्रक्रिया क्या करेगी?

(a) बच्चे को अप्रेरित करेगी

(b) उसे आक्रामक बना देगी

(c) अधिगम के लिए पाड़ का काम करेगी

(d) सीखने में मदद नहीं करेगी

Ans- (c)

Q. लेव वाइगोत्स्की के अनुसार, निम्न में से किसके लिए ‘समीपस विकास क्षेत्र’ का इस्तेमाल करना चाहिए?

(a) अध्यापन और मूल्यांकन

(b) केवल अध्यापन

(c) केवल मूल्यांकन

(d) प्रवाही बौद्धिकता की पहचान

Ans- (a)

Q. लेव वायगोत्स्की के ‘निकटस्थ विकास का क्षेत्र’ सिद्धान्त में शब्दावली ‘निकटस्थ’ दर्शाती है कि दी गई सहायता शिक्षार्थी की वर्तमान दक्षत की तुलना में-

(a) कुछ नीचे है । (Slightly Down)

(b) कुछ ऊपर है । (Slightly Up)

c) उसी स्तर पर है । (at the same level)

(d) बहुत ऊपर है। (Highly up)

Ans- (b)

Q. एक विशिष्ट संप्रत्यय को पढ़ाने हेतु एक अध्यापिका बच्चे को अ हल किया हुआ उदाहरण देती है। लेव वायगोत्स्की के अनुस अध्यापिका किस रणनीति का इस्तेमाल कर रही है।

(a) अवलोकन अधिगम

(c) द्वन्द्वात्मक अधिगम

(b) पाड़

(d) अनुकूलन

Ans- (b)

Q. लेव वायगोत्स्की के अनुसार निम्नलिखित में से कौन-से कारक बच्च के संज्ञानात्मक विकास को सुगिम बनाते हैं?

1. सांस्कृतिक उपकरण

2. सामाजिक संपर्क

3. संतुलन

4. पुरस्कार

(a) 3,4

(d) 1,3

(b) 2,3

(c) 1,2

Ans- (c)

Q. वायगोत्स्की के अनुसार, बच्चे किस प्रकार सीखते हैं?

(a) प्रतियोगिताओं के द्वारा,

(b) साथियों के साथ बातचीत करके

(c) पुरस्कार के लिए प्रयास करके और दण्ड से बचकर

(d) उद्दीपन – प्रतिक्रिया अनुबंधन करके

Ans- (b)

Read More:

CTET July 2023: जनवरी में आयोजित CTET परीक्षा में जीन पियाजे के सिद्धांत से पूछे गए महत्वपूर्ण सवाल, यहां पढ़िए!

झारखंड शिक्षक भर्ती परीक्षा में CTET में सफल अभ्यर्थी शामिल होंगें या नहीं? कोर्ट ने लिए ये फ़ैसला

सीटेट परीक्षा से जुड़े तमाम नवीनतम अपडेट तथा प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल के सदस्य जरूर बने जॉइन लिंक नीचे दी गई है.

Follow Facebook – Click Here
Join us on Telegram – Click Here
Follow us on Twitter – Click Here

Spread the love

Leave a Comment