Father of All Revolution In India जाने! भारत में विभिन्न क्रांतियों के जनक

Advertisement

Father of All Revolution In India

भारत में सबसे पहली क्रांति की शुरुआत 1966-67 में हुई हरित क्रांति से मानी जाती है | इस क्रांति के कारण भारत खाद्य उत्पादन में आत्म निर्भर हो गया|

भारत में क्रांतियों ने कृषि, पेट्रोलियम आदि विभिन्न सामाजिक-आर्थिक क्षेत्रों में एक बिल्कुल नए युग की शुरुआत के रूप में चिह्नित किया, ज्यादातर समय इन क्रांतियों का संबंध केवल एक विशेष क्षेत्र से था और इन क्रांतियों के माध्यम से विशेष रूप से बहुक्षेत्र के सृजन से क्षेत्र विशेष में तेजी से वृद्धि हुई।

अवसर और उद्घाटन। जहां तक प्रतियोगी परीक्षाओं की बात है, भारत में क्रांतियों को static gk सेक्शन में अक्सर पूछा जाता है, इसलिए हमने उन क्रांतियों की सूची संकलित करने और उन्हें एक संक्षिप्त रूप में आपके सामने प्रस्तुत किया है।

Read More:

भारत में विभिन्न क्रांतियों के जनक (All Revolution in India in Hindi)

Advertisement
Advertisement

क्रांति का नाम

क्षेत्र

तथ्य

1. हरित क्रांति (Green Revolution)  खाद्यान्न उत्पादन से सम्बंधित थी | इसके कारण गेहूं और धान की पैदावार में अच्छी बृद्धि हुई थी |
2. श्वेत क्रांति  दुग्ध उत्पादन से सम्बंधित है इसकी शुरुआत 1964-65 हुई जिसे आगे ‘ऑपरेशन फ्लड’ कहा गया |
3. पीली क्रांति (yellow Revolution)  खाद्य तेलों और तिलहन फसलों के उत्पादन को बढ़ाने के लिए भारत, तिलहन उत्पादन में आत्म निर्भर बन गया है | 2013-14 में 32.9 मिलियन टन तिलहन का उत्पादन हुआ था |
4. नीली क्रांति (Blue Revolution)  मत्स्य उत्पादन में बृद्धि के लिए चलाई गयी थी | 2013-14 में भारत में 95.8 लाख टन मछली का उत्पादन हुआ था | भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ा मछली उत्पादक देश बन गया है |
5.  गुलाबी क्रांति (Pink Revolution)  यह प्याज और झींगा मछली के उत्पादन से सम्बंधित है | भारत विश्व का सबसे बड़ा झींगा मछली उत्पादक देश बन गया है|
6.  काली क्रांति (Black Revolution)  पेट्रोलियम/खनिज तेलों के उत्पादन को बढ़ाने के लिए एथेनोल का उत्पादन भी बढाया जायेगा| इसका सम्बन्ध कोयला उत्पादन से भी है| पेट्रोल में एथेनोल को 10% मिलाकर बायो डीजल बनाने का लक्ष्य है |
7.  धूसर क्रांति (Grey Revolution)  उर्वरक उत्पादन में बृद्धि का लक्ष्य इसी क्रांति के कारण देश में 25.5 मिलियन टन उर्वरक की खपत हो रही है |
8.  रजत क्रांति (Silver Revolution)  भारत में अंडा उत्पादन और मुर्गियों की उत्पादकता बढ़ाने के लिए भारत की मुर्गी एक वर्ष में 65 अंडे देती है जबकि अमेरिका में 295 अंडे | भारत में आंध्र प्रदेश सबसे बड़ा उत्पादक है |
9.  सुनहरी क्रांति (Golden Revolution)  इसका सम्बन्ध बागवानी उत्पादन में बृद्धि से है जिसमे फल विशेषकर सेव उत्पादन| इसे शहद उत्पादन से भी जोड़ा जाता है| भारत में बागवानी उत्पाद GDP में 31% योगदान देता है | भारत सब्जी और फल उत्पादन में विश्व मे दूसरा स्थान रखता है |
10. इन्द्रधनुषी क्रांति  इसमें हरित, पीली, नीली, लाल, गुलाबी, भूरी, धूसर और अन्य सभी क्रांतियों को साथ लेकर चलने का लक्ष्य है | जुलाई 2000 में नयी कृषि नीति को लागू किया गया है इसी को इन्द्रधनुषी क्रांति कहा गया है |
11. सदाबहार क्रांति (Rainbow Revolution)  इसका उद्येश्य देश की मिट्टी को उन्नत बनाना, किसानों को लोन दिलाना, रेन वाटर हार्वेस्टिंग एवं कृषि शोध को बढ़ाना है| इसके माध्यम से देश को पूरी तरह खाद्यान्न में निर्भर बनाना है|
12. गोल क्रांति (Round Revolution))  इसका सम्बन्ध देश में आलू के उत्पादन को बढ़ाना है | भारत, चीन के बाद विश्व का दूसरा सबसे बड़ा आलू उत्पादक देश है| भारत में सबसे बड़ा आलू उत्पादक उत्तर प्रदेश है|

Important frequently asked questions:- 

Who used the term ‘Evergreen Revolution’ for increasing agricultural production in India?

– Swaminathan coined the term ‘’Evergreen Revolution” to highlight the pathway of increasing production and productivity in a manner such that short and long term goals of food production are not mutually antagonistic. Hence, B is the correct option.

Who is the father of the Green Revolution in the World?

Norman Borlaug is the father of Green Revolution in the World. Hence A is the correct option.

Who was the father of Green Revolution in India?

– M.S Swaminathan is an Indian geneticist and international administrator, renowned for his leading role in India’s Green Revolution a program under which high-yield varieties of wheat and rice seedlings were planted in the fields of poor farmers. He is known as the “Indian Father of Green Revolution”. Hence, B is the correct option.

Which crop production is maximises after independence?

– After independence, India maximise the wheat production due to the adoption of a new agricultural strategy i.e. Green Revolution. Hence, C is the correct option.

 

Download the Important PDF BOOKS below:

[New Edition*] Lucent General Science PDF Download Click Here
[NEW EDITION] Railway Speedy General Science Book PDF Download Click Here
Rakesh Yadav Math Class Notes Book PDF Free Download Click Here
Lucent GK PDF 2020 in Hindi /English Free Download
Click Here

इस पोस्ट मे हमने भारत में विभिन्न क्रांतियों के जनक (Father of All Revolution In India) की लिस्ट आपके साथ  शेअर की, आशा है ये आप के किए उपयोगी साबित होगे ।

[To Get latest Study Notes Join Us on Telegram- Link Given Below]

For Latest Update Please join Our Social media Handle

Follow Facebook – Click Here
Join us on Telegram – Click Here
Follow us on Twitter – Click Here



Advertisement
Advertisement
Advertisement

Leave a Comment

error: Content is protected !!