हरियाणा के प्रसिद्ध सांगी (Haryana Saang) || Haryana GK

Haryana ke prasidh Sangi

Haryana ke prasidh Sangi

इस पोस्ट में हम हरियाणा के प्रमुख सांगी (Haryana ke prasidh Sangi) आप सभी के साथ शेयर कर रहे हैं। जो कि हरियाणा में आयोजित होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण है। यदि सांगी  के बारे में बात की जाए तो मेरठ के किशन लाल भट्ट को सॉन्ग का जन्मदाता माना जाता है। 



 हरियाणा के प्रसिद्ध सांगी (Haryana ke prasidh Sangi)

बालकराम शीलांदे व राजा गोपीचंद,पूर्ण भक्त,रामायण, कुंजडी
कृष्ण गोस्वामी बुधामल, दिलावर, बिशनो व गुलाबकावली
पंडित शंकर लाल पद्मिनी,मोरध्वज व प्रह्लाद,भूरा बादल
गोवर्धन सारस्वत महाभारत,जसवंत सिंह व कृष्ण लीला,दिलावर 
हरदेव ज्यानी चोर, हीर रांझा व चंद्राकिरण
दीपचंद राजा भोज,ज्यानी चोर,नल- दमयंती, हरिश्चंद्र,सोरठ, सरणदे व उत्तानपाद 
बाजे भगत जमाल और चंद्राकिरण,ज्यानी चोर 
पंडित लखमीचंद शकुंतला,गोपीचंद,हरिश्चंद्र,राजा भोज,भरथरी, द्रोपति-चीरहरण,कीचड़ विराट,सत्यवान सावित्री,उरवा अनिरुद्ध व नल-दमयंती
मांगेराम दुष्यंत शकुंतला,नवरत्न, ध्रुव भक्त व कृष्ण जन्म इसके मुख्य स्वांग  रहे हैं। 
धनपत सिंह पूरणमल, ज्यानी चोर,बनदेवी बाल लीलो-चमन इनके  मुख्य स्वांग है
बंसीलाल ध्रुव भक्त, सरवर नीर,राजा नल,गुरु गोगा व राजा गोपीचंद
अंखीबख्श खाँ अलवर का सततनामा, नल का  छडाव, राजा नल का बगदाव, फिसाना, पद्मावत, कृष्ण लीला, निहालदे, महाराजा शिवदान सिंह का बारहमासा,चंद्रवल व  गुलाब काबली इनके मुख्य स्वांग है  
समरूपचंद चीर पर्व, ज्यानी चोर,सरणदे, रतनसेन, वन पर्व, उत्तानपाद व जमाल गबरु, महाभारत, पद्मावत
अहमद बख्श जयमल पत्ता व गुग्गा,कंस लीला, रामायण, चंद्रकिरण नवलदे, सोरठ, चौहान 

For The Latest Activities And News Follow Our Social Media Handles:

Haryana GK:



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here